चौफेर न्यूज – प्रचिती इंटरनॅशनल स्कूल में नवरात्री उत्सव मनाने हेतू कार्यक्रम का आयोजन किया गयाl इस अवसर पर सर्वप्रथम ज्ञान की देवता सरस्वती माता तथा सप्तशृंगी माता के प्रतिमा का पूजन उपस्थित मान्यवरोंने कियाl

इस अवसर पर स्कूल की अध्यापिका वैशाली पाटील मॅम ने छात्रो को नवरात्री में शैलपुत्री माता,ब्रह्मचारिणी माता,चंद्रघंटा माता,कुष्मांडा माता, स्कंदमाता,कात्यायनी माता,कालरात्री माता,महागौरी माता, तथा सिद्धिदात्री माता का पूजन किया जाता है तथा माता दुर्गा ने महिषासुर का वध कर के सभी देव,ऋषीमुनी तथा प्रजाजनो को उसके अत्याचार से मुक्त किया और निर्भय बनाया इसी दिन माता दुर्गा ने विजय प्राप्त कि इसी उपलक्ष में विजयादशमी मनाई जाती है ऐसा कहाl तथा स्कूल की अध्यापिका वैशाली खैरणार मॅमने पौराणिक कथा के अनुसार इसी दिन श्रीरामजी ने लंका के राजा रावण पर विजय प्राप्त की थीl इसी दिन राजा रघुने देवराज इंद्र पर विजय पाकर उसे बहुत सुवर्ण प्राप्त किया था और उन्होने दान में बाँट दिया थाl इस प्रकार दशहरा बुराई पर भलाई तथा अधर्म पर धर्म की विजय का प्रतीक हैl इससे हमारे जीवन में नई चेतना का संचार होता है और हमारी राष्ट्रीय,सांस्कृतिक एकता दृढ होती है ऐसे विचार प्रस्तुत कीएl

इसी अवसर पर सुंदर फलक लेखन तथा रंगोली बनाई गई तथा गरबा नृत्य करने के लिए सभी छात्रो ने तथा अध्यापक वर्ग कर्मचारी वर्गने सहयोग दियाl प्राचार्या वैशाली लाडे मॅमने छात्रो को कहा की हमे जीवन में लोभ,मोह,मत्सर,क्रोध,भ्रष्टाचार,आदी गुनो का त्याग करके परोपकार,दया,करूणा,प्रेमभाव आदी सद्गुनो को अपनाना चाहिये ऐसा संदेश दियाl कोरोना तथा अवगुनो का प्रतिरूप बनाकर उसका दहन किया गया और सभी को दशहरे की शुभकामनाये दीl इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु सभी अध्यापक वर्ग,कर्मचारीवर्ग ने सहयोग दियाl

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here